Sign up and get 10% Discount on your first Order | Free Delivery available on Orders above Rs. 999
to checkout total: ₹ 0.00
Our Inspiration

|| धेनुं सदनं रयीणाम् - गाय ऐश्वर्य का आधार है| ||

 


 

“हम आज जो कुछ भी कर रहे हैं अथवा करना चाहते हैं वो सब इस दिव्य आत्मा को समर्पित है जिन्होंने जीवनपर्यन्त न मात्र भारतीयता को जिया बल्कि भारत माता की सेवा हेतु अपना सर्वस्व अर्पण कर दिया | इन्होंने अपनी आवाज़ से, ज्ञान से, शोधपत्रों के माध्यम से ऐसे छुपे हुए तथ्यों (जो भ्रष्टाचार व साम्राज्यवाद के कारण दफ़न हो गए थे) को उजागर करके देश को एक नई दिशा दी | भले ही यह महान व्यक्तित्व अब संसार में न हो परन्तु वो हमारे विचारों में सदैव जीवित रहेंगे और आप और हम मिलकर उनके स्वप्नों को भारत अवश्य ही बनाएंगे | वन्दे मातरम्|”

 

"Whatever we are doing today or whatever we want to do is completely dedicated to this divine soul who have not only lived Indian culture even sacrificed their entire life to serve Bharat Maata. He gave a new direction to the country by his voice, knowledge, through research papers and by exposing hidden facts (which were buried due to corruption and imperialism). Even though this great personality is no longer in the world, but he will always live in our thoughts and you and we together will make BHARAT of his dreams. Vande Mataram | "

 

Our Motive:

As we all know that almost 1000 years ago, the entire economy of India ran through the villages and our GAUMAATA was in the center of this economy. All things needed were produced in every village and this was possible only because of the GAUMAATA. Not only cow dung / cow urine based farming was done even all the diseases were cured by Panchgavyas received by Cows. Our GAUMAATA was the basis of a healthy, prosperous, happy and wealthy BHARAT. Gradually we were attacked by foreigners, our culture became distorted, large companies controlled the economy and the economy became centralized. Entrapped in the propaganda propagated by the big companies, we started chemical based agriculture & left natural agriculture and also we forgot the remaining utility of the holy cow, whereas there is no such thing of our basic requirement which can not be fulfilled by the holy cow. In today's scenario, there are many researches have been done on the cow Gavyas and from these researches it has been proven that cow is a special gift of God to humanity. Even today, there are many people who cultivate not only cow based agriculture but also they produce panchagavya based special products to share importance of holy cow in society. These products are not only over-effective but also these have the life saving property. The only problem is that people who are doing such excellent work for society do not have a market and because of their inability to advertise/marketing, they are not able to reach people even people want these best products. 

Natural Bazaar (shopforcows.com) is an institution that is constantly trying to bring GAUMAATA back to the center of the economy. We also want to establish a market for such people who are continuously doing work hard to save GAUMAATA, they produce Panchgavya products and do poison free farming. We are committed to create a platform for such people who are producing best quality products to make poison free society and also doing commendable work to save the nation's culture and civilization. Our only aim is to re-organize the cow based economy which will be governed by the villages & villagers, because as long as this system was in the country, the country was called gold’s sparrow and today, where we have reached in the lack of this system, it is not hidden from anyone. In short, We want to make a poison free, healthy, happy, prosperous, wealthy and powerful nation. 

Natural Bazaar (shopforcows.com) is committed to deliver best quality Panchgavya products, Ayurvedic products and food items to the people. We have brought specific products for use in your daily life, which are produced by reliable gaushalas of the country, by the Gwalas, by the Swadeshi Rakshak institutions, and by the farmers who do natural farming. These products include cosmetics, food items, medicines, pooja items etc. By buying these products, you not only strengthen the economy of the country but also become a participant in the holy cause of Gauraksha. We believe that when you use these products, you will not have to change the brand for any other product in the same category, these products are 100% effective. 


जैसा कि हम सभी जानते हैं कि लगभग १००० वर्ष पूर्व तक भारत की संपूर्ण अर्थव्यवस्था गाँव से चलती थी और उसके केंद्र में हमारी गौमाता थी | प्रत्येक गाँव में लगभग आवश्यकता की सभी वस्तुओं का निर्माण किया जाता था और ये सब गौमाता के कारण ही संभव था | न मात्र गोबर/गोमूत्र आधारित कृषि की जाती थी बल्कि गाय द्वारा प्राप्त पंचगव्यों से ही संपूर्ण चिकित्सा की जाती थी | स्वस्थ, संपन्न, प्रसन्न व समृद्ध भारत की आधार थी हमारी गौमाता | धीरे - धीरे हम पर विदेशी आक्रमण हुए, हमारी संस्कृति विकृत हुई, बड़ी - बड़ी कंपनियों ने अर्थव्यवस्था को नियंत्रित कर लिया और अर्थव्यवस्था का केन्द्रीकरण हो गया | कंपनियों द्वारा चलाए गए दुष्प्रचारों में फंसके हमने प्राकृतिक कृषि छोड़ रासायनिक कृषि आरम्भ कर दी और गाय की शेष उपयोगिता को भी भूलते चले गए जबकि हमारी मूलभूत आवश्यकता की ऐसी कोई भी वस्तु नहीं है जो गाय द्वारा प्राप्त नहीं की जा सकती हो | आज के समय में गाय से प्राप्त होने वाले गव्यों पे बहुत से शोध हो चुके हैं जिनसे ये सिद्ध हुआ है कि गाय मानवता हेतु ईश्वर का एक विशिष्ट उपहार है | आज भी बहुत से लोग हैं जो गाय के महत्त्व को लोगों तक पहुँचाने हेतु न मात्र गौ आधारित कृषि करते हैं, उसका प्रचार करते हैं व पंचगव्य आधारित विशिष्ट उत्पाद भी बनाते हैं | यह उत्पाद न मात्र अति - लाभदायक हैं बल्कि जीवन को बचाने वाले हैं | बस समस्या ये है कि जो लोग समाज हेतु इतना उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं उनके पास बाजार नहीं है और विज्ञापन, मार्केटिंग कर पाने में असक्षम हो पाने के कारण उनके ये सर्वश्रेष्ठ उत्पाद चाहते हुए भी लोगों तक नहीं पहुँच पाते | यह उत्पादक बड़े - बड़े पूंजीपति नहीं हैं इसलिए इनके उत्पादों का प्रचार नहीं हो पाता और धन के अभाव में ये श्रेष्ठ पैकिंग भी नहीं कर पाते जबकि इनके द्वारा बनाये गए उत्पाद सर्वोत्तम हैं |

Natural Bazaar (shopforcows.com) एक ऐसी संस्था है जो गौमाता को पुनः अर्थव्यवस्था के केंद्र में लाने हेतु निरंतर प्रयासरत है | साथ ही हम ऐसे लोगों हेतु बाजार स्थापित करना चाहते हैं जो निरंतर गौमाता को बचाने हेतु कड़ा परिश्रम करके पंचगव्यों द्वारा उत्पाद बनाते हैं व विषमुक्त कृषि करते हैं | हम ऐसे लोगों के लिए एक प्लेटफॉर्म बनाने हेतु प्रतिबद्ध हैं जो कुछ न कुछ उत्पादन कर समाज को विषमुक्त बना रहे हैं और साथ ही राष्ट्र की संस्कृति व सभ्यता को बचाने हेतु भी सराहनीय कार्य कर रहे हैं | हमारा एक मात्र उद्देश्य अर्थव्यवस्था को पुनः गौ आधारित बनाके ग्रामों के अधीन करना है क्यूँकि जब तक ऐसी व्यवस्था देश में थी, देश सोने की चिड़िया कहा जाता था और आज इस व्यवस्था के टूट जाने पर हम कहाँ पहुँच गए हैं ये किसी से छुपा हुआ नहीं है | हम एक विषमुक्त, स्वस्थ, प्रसन्न, संपन्न, समृद्ध व शक्तिशाली राष्ट्र का निर्माण करना चाहते हैं |

Natural Bazaar (shopforcows.com) लोगों तक श्रेष्ठ कोटि के पंचगव्य उत्पाद, आयुर्वेदिक उत्पाद व खाद्य पदार्थ पहुँचाने हेतु वचनबद्ध है | हम आपके दैनिक जीवन में उपयोग हेतु विशिष्ट उत्पाद लेके आए हैं जो कि देश की विश्वसनीय गौशालाओं द्वारा, गौसेवकों द्वारा, स्वदेशी रक्षक संस्थाओं द्वारा, व प्राकृतिक कृषि करने वाले किसानों द्वारा उत्पादित हैं | इन उत्पादों में सौंदर्य प्रसाधन, खाद्य सामग्री, औषधियां, पूजा सामग्री इत्यादि हैं | जब आप इन उत्पादों को क्रय करते हैं तो न मात्र आप देश की अर्थव्यवस्था को मज़बूत बनाते हैं बल्कि गौरक्षा जैसे पवित्र कार्य में सहभागी भी बनते हैं | हमारा विश्वास है कि जब आप इन उत्पादों का उपयोग करेंगे तो उस श्रेणी के किसी अन्य उत्पाद हेतु आपको ब्रांड परिवर्तित नहीं करना पड़ेगा, यह उत्पाद शत - प्रतिशत प्रभावकारी हैं |

 

up
Shop is in view mode
View full version of the site
Copyright © 2020 All rights reserved by ShopForCows.com - Ecommerce software : Zencommerce.in
Ecommerce Software